spot_img
28.1 C
New Delhi
Wednesday, September 22, 2021
spot_img

बुजुर्ग नहीं जाएंगे CGHS अस्पताल, फोन पर उपलब्ध होंगे डाक्टर

–दिल्ली-NCR : बुजुर्गों के लिए CGHSकी बड़ी पहल, ई-संजीवनी के माध्यम से परामर्श सेवाएं शुरू
–मेडिसीन विशेषज्ञ, हड्डी रोग, नेत्र एवं कान-नाक एवं गला संबधी विशेषज्ञ समय देंगे

(अदिति सिंह)
नई दिल्ली/ टीम डिजिटल : राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली एवं एनसीआर में रहते सैकड़ों वरिष्ठ नागरिकों (बुजुर्गों) को अब केंद्रीय सरकार के स्वास्थ्य योजना सीजीएचएस के स्वास्थ्य केंद्रों में डाक्टर को बीमारी का इलाज के लिए जाना नहीं पड़ेगा। वह अब फोन पर ही डाक्टर को अपनी समस्या बताकर इलाज करवा सकेंगे। इसके लिए सीजीएचएस ने ई-संजीवनी के प्लेटफार्म पर टेली-परामर्श सेवा शुरू की है। इसके तहत मेडिसीन के विशेषज्ञ, हड्डी रोग विशेषज्ञ, नेत्र विशेषज्ञ एवं कान नाक और गला संबधी विशेषज्ञ फोन पर उपलब्ध होंगे। शुरुआत में ये सुविधा सिर्फ दिल्ली राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में सीजीएचएस के लाभार्थियों को उपलब्ध होंगी। बाद में और शहरों में किया जा सकता है। ई-सेवाएं सभी कार्य दिवसों में सुबह 9 बजे से दोपहर 12 बजे के बीच उपलब्ध हैं।बता दें कि स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय को कोविड-19 के मौजूदा हालात में सार्वजनिक स्थानों विशेष रूप से स्वास्थ्य सेवा केन्द्रों पर बुजुर्गों का जाना सुरक्षित नहीं मानते हुए वरिष्ठ नागरिक लाभार्थियों सहित कई लोगों से विशेषज्ञ डॉक्टरों के साथ टेली-परामर्श सेवाएं शुरू करने का अनुरोध मिल रहा था। इस अनुरोध पर ध्यान देते हुए ही केन्द्र सरकार स्वास्थ्य योजना-सीजीएचएस ने अपने लाभार्थियों के लिए विशेषज्ञों के साथ परामर्श के लिए वर्चुअल मोड के माध्यम से शुरुआत की है।
सीजीएचएस की इन परामर्श सेवाओं के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय के मौजूदा ई-संजीवनी प्लेटफॉर्म का उपयोग किया जा रहा है। उपयोग में आसानी के लिए, इसे लाभार्थियों की आईडी के साथ जोड़ा गया है। विशेषज्ञ ओपीडी सेवाओं का लाभ लेने के लिए, लाभार्थी अपने मोबाइल नंबर का उपयोग करके इसपर अपना पंजीकरण करा सकते हैं, जिसके बाद सत्यापन के लिए एक ओटीपी लाभार्थी के मोबाइल नंबर पर आएगा, जिससे सत्यापन होने के बाद लाभार्थी सिस्टम पर लॉग इन कर पंजीकरण फॉर्म भर सकते हैं और टोकन के लिए अनुरोध कर सकते हैं तथा यदि आवश्यक हो तो अपना स्वास्थ्य रिकॉर्ड अपलोड कर सकते हैं।

रोगियों को SMS के माध्यम से आईडी और टोकन प्राप्त होगा

नियमित ओपीडी सेवाओं के लिए प्रत्येक सीजीएचएस लाभार्थी एक विशेष आरोग्य केन्द्र से जुड़ा हुआ है, हालांकि वे देश में कहीं भी किसी भी ऐसे सीजीएचस केन्द्र पर ओपीडी सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं। पंजीकरण कराने वाले रोगियों को एसएमएस के माध्यम से आईडी और टोकन प्राप्त होगा और उन्हें ऑनलाइन कतार में उनकी संख्या के बारे में भी सूचित किया जाएगा। बारी आने पर एक कॉल नाउ बटन सक्रिय हो जाएगा और उसी का उपयोग करके संबंधित लाभार्थी परामर्श के लिए विशेषज्ञ डाक्टर के साथ वीडियो कॉल शुरू कर सकता है। टेली-परामर्श के बाद, एक ई-पर्चा बन जाएगा जिसके जरिए मरीज अपने सीजीएचएस वेलनेस सेंटर से दवाइयां प्राप्त कर सकते हैं।

Related Articles

epaper

Latest Articles