spot_img
28.1 C
New Delhi
Saturday, June 19, 2021
spot_img

कोई तिरछी निगाहों से देखेगा तो उसकी निगाहों को उखाड़ कर फेंक देंगे

–केंद्रीय मंत्री गडकरी ने कहा- हम किसी पर आक्रमण नहीं करना चाहते
— हम किसी देश और जमीन पर कब्जा नहीं करना चाहते
-पाकिस्तान आतंकवादियों को ट्रेनिंग देकर भारत में हमले करवाता है : गडकरी
– जम्मू कश्मीर में आतंकवाद पर लगाम लगाया, विकास की प्रक्रिया शुरु

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल : केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने आज यहां पाकिस्तान एवं चीन का नाम लिए बगैर करारा हमला बोला और कहा कि हम किसी पर आक्रमण नहीं करना चाहते, लेकिन अगर हमारी तरफ कोई तिरछी निगाहों से देखेगा तो उसकी निगाहों को उखाड़ कर फेंक दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि हम किसी देश और जमीन पर कब्जा नहीं करना चाहते, हम किसी देश में घुसना नहीं चाहते हैं। नेपाल, भूटान और बांग्लादेश के साथ हमारे भाईचारे जैसे संबंध हैं और हर परिस्थिति में हम उनके साथ खड़े रहते हैंं।
केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि पाकिस्तान द्वारा आतंकवादियों को ट्रेनिंग देकर भारत में हमले के लिए भेजा जाता था। पिछले 25 साल का इतिहास याद कीजिए, कितने बम विस्फोट हुए थे, मंदिरों पर हमले हुए, निर्दोषों की हत्याएं हुए। कांग्रेस की सरकार आतंकवादियों के सामने घुटने टेकने का काम करती है।

वचुर्अल रैली के माध्यम से राजस्थान के लोगों से जन संवाद स्थापित करते हुए गउकरी ने कहा कि हमने जम्मू कश्मीर में आतंकवाद पर लगाम लगाते हुए वहां विकास की प्रक्रिया को गतिशील किया है। आज जम्मू कश्मीर में 60 हजार करोड़ रुपये के रोड, टनल, राजमार्ग बनाने के काम केवल उनके मंत्रालय द्वारा हो रहा है। हमने तेजी से देश के इन्फ्रास्ट्रक्चर को बदल दिया। क्योंकि ये देश की सुरक्षा के लिए बहुत आवश्यक है। आज हमारी सीमाएं सुरक्षित हैं और हमारे जवान अत्याधुनिक टेक्नोलॉजी लेकर ताकत के साथ खड़े हैं।

मोदी सरकार में जितनी रोड बनीं हैं, उतनी कभी नहीं बनीं

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि कई लोगों का सपना रहा है कि कैलाश मानसरोवर जाना है। आज वहां जाने के दो मार्ग हैं, एक सिक्किम से और दूसरा नेपाल से। जाने के लिए वीजा लगता है। उन्होंने तय किया था कि मेरे कार्यकाल में मानसरोवर जाने के लिए हिंदुस्तान का रास्ता पूरा होना चाहिए। उन्होंने बताया कि उत्तराखंड के पिथौरागढ़ से होते हुए नेपाल और चीन की सीमा के पास से मानसरोवर तक जाने का काम जोरों से शुरु किया। वहां हमारे वीर जवानों ने काम शुरु किया, आने वाले 6 महीने में रोड का काम पूरा होने वाला है।

केंद्रीय मंत्री के मुताबिक दशकों से देश के कई राज्यों में सिंचाईं परियोजनाएं लटकी पड़ी थीं, राज्यों के बीच विवाद होता था। उन्होंने हमारी सरकार ने इन योजनाओं का विवाद खत्म कराकर, परियोजनाओं को हरी झंडी दिखाई है। राजस्थान के कांग्रेस के नेताओं को आपने ये सवाल पूछना चाहिए राज्य बनने के बाद कांग्रेस शासन में यहां कितनी रोड बनीं और मोदी सरकार के कार्यकाल में कितनी रोड बनीं। उन्होंने राजस्थान की जनता को विश्वास दिलाया कि मोदी सरकार में जितनी रोड बनीं हैं, उतनी कभी नहीं बनीं।

दिल्ली, मुंबई एक्सप्रेस हाइवे से 12 घंटे में तय होगा सफर

राजस्थान की प्रगति और विकास के लिए हम दिल्ली, मुंबई एक्सप्रेस हाइवे बना रहे हैं। ये हाइवे राजस्थान, हरियाणा, महाराष्ट्र, गुजरात और मध्य प्रदेश के आर्थिक रूप से पिछड़े वनवासी क्षेत्र से होकर जाता है। इस 12 लेन हाइवे के बन जाने से दिल्ली से मुम्बई 12 घंटे में पहुंचा जा सकेगा। ट्रक 28 घंटे में पहुंच जाएगा, जिसे अभी 50 घंटे लगते हैं।
इसकी लंबाई 1,260 किमी है और ये करीब 1 लाख करोड़ का रोड है और 16 हजार करोड़ हमने भूमि अधिग्रहण पर बचाएं हैं। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गांव, गरीब, मजदूर, किसान, उद्योग सभी को 20 लाख करोड़ रुपये का पैकेज दिया है।
हमारी कोशिश है कि नए रोजगार का निर्माण हो, इंडस्ट्री में इन्वेस्टमेंट आए, एमएसएमई का एक्सपोर्ट बढ़े और हमारे देश की प्रगति और विकास हो। आज पूरी दुनिया में भारत के इंजीनियरों व डॉक्टरों का डंका बज रहा है। इसलिए मुझे विश्वास है कि हमारे अंदर आत्मनिर्भर भारत बनने की क्षमता है। हमारे देश में सर्वाधिक प्रशिक्षित युवा जनसंख्या है। हम दुनिया को दिशा दे सकते हैं।

Related Articles

epaper

Latest Articles