42.1 C
New Delhi
Monday, June 17, 2024

PM मोदी का दावा, ऑटोमोबाइल, दवा और पर्यटन के क्षेत्रों में तेजी से वृद्धि होगी

नयी दिल्ली/ संदीप जोशी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) ने सोमवार को कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था तेज वृद्धि की ओर अग्रसर है और इससे युवाओं के लिए रोजगार के बड़े अवसर पैदा हुए हैं। वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से आयोजित एक ‘रोजगार मेले’ में 51,000 से अधिक नवनियुक्त कर्मियों को नियुक्ति पत्र वितरित करने के बाद अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि ऑटोमोबाइल, दवा, पर्यटन और खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्रों में तेजी से वृद्धि होने और युवाओं के लिए रोजगार के अवसर पैदा होने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि अकेले पर्यटन क्षेत्र से 2030 तक अर्थव्यवस्था में 20 लाख करोड़ रुपये का योगदान होने की उम्मीद है और इसमें 13-14 करोड़ नए रोजगार पैदा करने की क्षमता है। यह रोजगार मेला देशभर में 45 स्थानों पर आयोजित किया गया। रोजगार मेले के जरिए केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने विभिन्‍न केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल, नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो और दिल्‍ली पुलिस में कर्मियों की भर्तियां की हैं। प्रधानमंत्री ने उम्मीद जताई कि भारत इस दशक में दुनिया की शीर्ष तीन अर्थव्यवस्थाओं में से एक के रूप में उभरेगा और इससे आम आदमी के जीवन स्तर में सुधार होगा। उन्होंने कहा, हर क्षेत्र का विकास होना चाहिए। खाद्यान्न से लेकर दवा उद्योग तक, अंतरिक्ष से स्टार्टअप तक। जब हर क्षेत्र प्रगति करेगा तो अर्थव्यवस्था बढ़ेगी। दवा उद्योग का उदाहरण देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि वर्तमान में चार लाख करोड़ रुपये का यह क्षेत्र 2030 तक बढ़कर 10 लाख करोड़ रुपये का हो जाने की उम्मीद है। उन्होंने कहा, इसका क्या मतलब है? इसका मतलब है कि इस दशक में दवा उद्योग को युवाओं की काफी जरूरत होगी। रोजगार के अवसर पैदा होंगे। उन्होंने कहा कि वाहन क्षेत्र भी वृद्धि के पथ पर है और इसे आगे बढ़ाने के लिए युवा शक्ति की जरूरत होगी। प्रधानमंत्री ने कहा, इससे रोजगार के अपार अवसर पैदा होंगे। उत्तर प्रदेश का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि राज्य में सुशासन से कानून का राज स्थापित हुआ है, जिससे काफी निवेश आया है। उन्होंने कहा, सुरक्षा के माहौल में कानून का राज स्थापित होने से विकास को गति मिलती है, लोगों में विश्वास पैदा होता है और निवेश आता है। मोदी ने कहा कि हालांकि अपराध की बढ़ती दर वाले राज्यों में निवेश कम है और रोजगार के अवसर कम हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस बार रोजगार मेले का यह आयोजन एक ऐसे माहौल में हो रहा है, जब देश गर्व और आत्मविश्वास से भरा हुआ है। उन्होंने कहा, हमारा चंद्रयान और उसका रोवर प्रज्ञान लगातार चंद्रमा से ऐतिहासिक तस्वीरें भेज रहा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले नौ वर्षों में उनकी सरकार के प्रयासों से परिवर्तन का एक और नया दौर दिखने लगा है। उन्होंने कहा कि पिछले साल भारत ने रिकार्ड निर्यात किया जो कि इस बात का संकेत है कि दुनियाभर के बाजारों में भारतीय सामान की मांग लगातार बढ़ रही है। उन्होंने कहा, वोकल फोर लोकल के मंत्र पर चलते हुए भारत सरकार भी मेड इन इंडिया लैपटॉप, कम्प्यूटर जैसे उत्पाद खरीदने पर जोर दे रही है। इससे विनिर्माण भी बढ़ा है और युवाओं के लिए रोजगार के नए अवसर भी बन रहे हैं। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में अर्धसैनिक बलों की भर्ती प्रक्रिया में सरकार ने कई बड़े बदलाव किए हैं। मोदी ने इस अवसर पर प्रधानमंत्री जनधन योजना का भी उल्लेख किया और कहा कि इसने गांव और गरीब के आर्थिक सशक्तिकरण के साथ ही रोजगार निर्माण में भी बहुत बड़ी भूमिका निभाई है। प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) के मुताबिक, यह रोजगार मेला प्रधानमंत्री की रोजगार सृजन की प्रतिबद्धता को प्राथमिकता देने की दिशा में एक कदम है। उसने कहा कि इससे रोजगार सृजन को बढ़ावा मिलने और राष्‍ट्र निर्माण में युवाओं की भागीदारी तथा उनको सशक्तिकरण का अवसर मिलने की संभावना है।

latest news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

epaper

Latest Articles