23.6 C
New Delhi
Wednesday, May 12, 2021

गर्भवती महिलाएं, कम इम्युनिटी एवं बीमारी से ग्रस्त लोग घर से कतई न निकलें

—सीएम योगी ने शुरू किया 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के लिए टीकाकरण अभियान
—सर्वाधिक एक्टिव केस वाले 7 जिलों के 85 केन्द्रों में पांच दिनों तक चलेगा टीकाकरण
—सभी टीकाकरण कार्यक्रम निःशुल्क, सभी नागरिक को वैक्सीन लगायी जा रही
—वैक्सीन लेने के बाद भी हमें मास्क का नियमित उपयोग, दो गज की दूरी जरूरी

लखनऊ/ भारती भडाना : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को यहां वीरांगना अवन्ती बाई महिला चिकित्सालय में 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के लिए निःशुल्क कोविड टीकाकरण अभियान का शुभारम्भ किया। साथ ही कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में वैश्विक महामारी कोरोना को समाप्त करने के उद्देश्य से 18 वर्ष से अधिक आयुवर्ग के कोविड टीकाकरण के प्रथम चरण की शुरूआत की गयी है। सर्वाधिक एक्टिव केस एवं सर्वाधिक संक्रमण दर वाले 07 जनपदों में कोविड टीकाकरण के लिए नए साॅफ्टवेयर के ट्रायल के साथ, यूथ के लिए इन जनपदों के 85 केन्द्रों में निःशुल्क टीकाकरण कार्य प्रारम्भ हो गया है। अगले 05 दिनों तक इन 07 जनपदों-लखनऊ, कानपुर नगर, वाराणसी, प्रयागराज, गोरखपुर, बरेली व मेरठ में टीकाकरण कार्यक्रम सम्पन्न होगा। इसके बाद प्रत्येक जनपद में 18 वर्ष से अधिक आयुवर्ग के लोगों का निःशुल्क टीकाकरण किया जाएगा।


मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश में 45 वर्ष से अधिक आयुवर्ग के लोगों के लिए प्रदेश के 2,500 केन्द्रों में आज वैक्सीनेशन कार्य संचालित हो रहा है । भारत सरकार 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के लिए वैक्सीन उपलब्ध करा रही है। उन्होंने कहा कि यह सभी टीकाकरण कार्यक्रम निःशुल्क हैं और प्रत्येक नागरिक को बिना किसी भेदभाव के कोरोना वैक्सीन लगायी जा रही है।

यह भी पढें…प्रधानमंत्री मोदी एक श्रद्वालु की तरह पहुंचे गुरुद्वारा श्री शीशगंज साहिब

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह महामारी है, अस्तु हमें उपलब्ध संसाधनों का बेहतर प्रबन्धन करना होगा। धैर्य के साथ बचाव करते हुए, वैक्सीन के लिए जिन लोगों को टीकाकरण केन्द्र में बुलाया जाए, वह लोग ही टीकाकरण केन्द्र में आएं। हम सभी को वैक्सीन के जीरो वेस्टेज को सुनिश्चित करना होगा। टीकाकरण केन्द्र पर कोविड प्रोटोकाॅल के अनुपालन हेतु लोगों के लिए वेटिंग एरिया एवं आॅब्जर्वेशन एरिया बनाए गये हैं। हर व्यक्ति को वैक्सीन रूपी जीवन रक्षा कवच प्रदान करने के लिए केन्द्र व प्रदेश सरकार अपने स्तर पर हर सम्भव प्रयास कर रही हैं। हम लोग बहुत अच्छे ढंग से तेजी के साथ इस वैक्सीन के कार्यक्रम को आगे बढ़ाने में सफल होंगे।

यह भी पढें…दिल्ली में रेलवे कोविड केयर सेंटर कोच में 1196 बिस्तर उपलब्ध

मुख्यमंत्री ने कहा कि बचाव ही सर्वोत्तम उपाय है। वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके लोगों पर कोरोना संक्रमण माइल्ड स्तर का रहा है और उनमें रिकवरी दर तेज देखी गई। जिन्होंने वैक्सीन की एक डोज ली है, उनमें भी इंफेक्शन से रिकवरी में मदद मिली है। उन्होंने कहा कि वैक्सीन लेने के बाद भी हमें मास्क का नियमित उपयोग तथा दो गज की दूरी का पालन करना होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना से बचाव में वैक्सीन महत्वपूर्ण हथियार है। केन्द्र व प्रदेश सरकार इस वैश्विक महामारी को रोकने के हर सम्भव प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि यह महामारी है, और महामारी में हमें बचाव के सभी उपायों को अपनाना होगा। उन्होंने सभी से यह अपील कि अनावश्यक रूप से कोई भी घर के बाहर न निकले। विशेषतः हाईरिस्क कैटेगरी वाले 05 ग्रुप जिनमें-60 वर्ष से अधिक उम्र के लोग, 10 वर्ष से कम आयु के बच्चे, गर्भवती महिलाएं, कम इम्युनिटी एवं एक से अधिक बीमारी से ग्रस्त लोग घर से कतई बाहर न निकलें। उन्होंने कहा कि घर के अन्दर भी मास्क का उपयोग किया जाए। सभी कोरोना वॉरियर्स को मास्क, ग्लव्स एवं सैनिटाइजर उपलब्ध कराए गए हैं। वह सभी इनका नियमित रूप से उपयोग करें।

यह भी पढें…NCW: कोरोना पॉजिटिव गर्भवती महिलाओं के लिए नई पहल

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रदेश में ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में क्रमशः ग्राम निगरानी समितियां एवं मोहल्ला निगरानी समितियां गठित की गयी हैं। यह स्थानीय स्तर पर ट्रेसिंग, टेस्टिंग एवं आवश्यक जीवनरक्षक दवाओं की सुविधा लोगों को प्रदान कर रही हैं। कोरोना नियंत्रण एवं प्रबन्धन के कार्यों की निगरानी हेतु सभी जनपदों में इण्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर स्थापित किये गये हैं। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रदेश में काॅन्टैक्ट ट्रेसिंग को बढ़ाने के साथ ही शतप्रशित टेस्टिंग के प्रयास किये जा रहे हैं। पिछले 24 घण्टे में प्रदेश में ढाई लाख से अधिक टेस्ट किये गए।

कोरोना के खिलाफ देश की लड़ाई में हम अवश्य विजयी होंगे

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि इसी प्रकार टीमवर्क करेंगे, तो कोरोना के खिलाफ देश की लड़ाई में हम अवश्य विजयी होंगे। इस कार्य में जनता जनार्दन का अपेक्षित सहयोग प्राप्त हो रहा है। इस लड़ाई में हमारे चिकित्सक, हेल्थवर्कर एवं अन्य कोरोना वॉरियर सहित विभिन्न स्वयंसेवी संगठन एवं सामाजिक संगठन इत्यादि सक्रिय सहयोग प्रदान कर रहे हैं। मेरी यह अपील है कि सभी लोग मिलकर कोरोना के खिलाफ देश की इस लड़ाई में विजयी बनने की ओर अग्रसर हों।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि हम सभी कोरोना वारियर विशेषतः स्वास्थ्यकर्मियों का सम्मान करें और उनको हर प्रकार का सम्बल प्रदान करें। जिन लोगों ने अपने नजदीकी लोगों को इस वैश्विक महामारी में खोया है उनके प्रति हमारी गहरी संवेदना है। राज्य सरकार व केन्द्र सरकार मिलकर अधिक से अधिक संसाधन जुटाने का प्रयास कर रही हैं। हमें सभी लोगों का सहयोग इस पूरे अभियान में चाहिए।

Related Articles

epaper

Latest Articles