32.9 C
New Delhi
Sunday, April 21, 2024

सांसदों के बेटे-बेटियों को टिकट नहीं देना पाप है, तो यह पाप किया : मोदी

नई दिल्ली/ खुशबू पाण्डेय : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि अगर हाल में संपन्न हुए विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी के सांसदों के सांसदों के बेटे-बेटियों को टिकट नहीं देना पाप है, तो यह पाप उन्होंने किया है। यह फैसला सोच समझकर लिया गया था क्योंकि वंशवाद की राजनीति लोकतंत्र के लिए खतरनाक है और पार्टी इसके खिलाफ है। भाजपा के कई सांसद अपने बेटे व बेटियों के लिए टिकट चाहते थे। प्रधानमंत्री मोदी ने मंगलवार को भाजपा संसदीय दल की बैठक में पार्टी सांसदों से कहा कि परिवारवादी पार्टी जातिवादी पार्टी होती है और अगर इसके खिलाफ लड़ाई लडऩी है तेा अपनी भाजपा में भी इसका ख्याल रखना होगा। मोदी ने बैठक में सांसदों को संबोधित करते हुए कहा कि वंशवाद की राजनीति लोकतंत्र के लिए खतरनाक है, इसलिए पार्टी के सांसदों को वंशवाद की राजनीति के खिलाफ लडऩा होगा। उन्होंने कहा कि ऐसी राजनीति पर अंकुश लगाने के लिए भाजपा ने अपने संगठन के भीतर ही एक कोशिश आरंभ की है।
उन्होंने कहा कि भाजपा ने सांसदों के बच्चों को विधानसभा चुनाव में उम्मीदवार नहीं बनाया, लेकिन उन्हें इस बात की खुशी है कि इसके बावजूद सभी सांसदों ने पार्टी को विजयी बनाने के लिए दिल से काम किया, इसके लिए सभी सांसद बधाई के पात्र हैं।

-भाजपा संसदीय दल की बैठक में प्रधानमंत्री मोदी ने किया खुलासा
-कहा-वंशवाद की राजनीति लोकतंत्र के लिए खतरनाक
-परिवारवाद पर रोक लगाने के लिए नहीं दिया भाजपा सांसदों के बच्चों को टिकट
-द कश्मीर फाइल्स जैसी फिल्में बनती रहनी चाहिए ताकि सत्य सामने आ सके : मोदी

हाल ही में रिलीज हुई फिल्म द कश्मीर फाइल्स का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि यह एक अच्छी फिल्म है और इस तरह की फिल्में बनती रहनी चाहिए ताकि सत्य सामने आ सके।
संसदीय दल की बैठक के बाद संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा कि बैठक में मोदी ने परिवारवाद के खिलाफ भाजपा की पहल की सराहना की। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री ने यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों को बाहर निकालने के लिए सरकार द्वारा चलाए गये ऑपरेशन गंगा का जिक्र करते हुए विरोधी दलों पर इस मुद्दे का राजनीति करने का भी आरोप लगाया। विदेश मंत्री एस जयशंकर ने यूक्रेन मसले पर बैठक में एक प्रस्तुतिकरण भी दिया।

 

सांसदों के बेटे-बेटियों को टिकट नहीं देना पाप है, तो यह पाप किया : मोदी

इससे पहले भाजपा संसदीय दल की बैठक में भाजपा अध्यक्ष जगत प्रकाश नडडा की अगुवाई में पार्टी के सभी सांसदों ने विधानसभा चुनावों में मिली जीत को लेकर प्रधानमंत्री का अभिनंदन किया। संसदीय दल की बैठक में मोदी के पहुंचते ही चार राज्यों में मिली जीत को लेकर सांसदों ने ताली बजाकर उनका स्वागत किया। चुनावों में मिली प्रचंड जीत के लिए भाजपा के सभी पूर्व अध्यक्षों गृहमंत्री अमित शाह, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने मोदी एवं नडडा को माला पहना कर उनका स्वागत किया ओर जीत के लिए बधाई दी।
संसदीय दल की बैठक में गायिका लता मंगेशकर, यूक्रेन में मारे गए भारतीय छात्र नवीन शेखरप्पा और कर्नाटक के बजरंग दल के कार्यकर्ता हर्ष को श्रद्धांजलि देते हुए दो मिनट का मौन रखा गया।

पांचों राज्यों के सांसदों को सौंपा काम

प्रधानमंत्री मोदी ने इस मौके पर पांच राज्यों के सांसदों को एक काम भी सौंपा और कहा कि उन्हें अपने संसदीय क्षेत्रों की कम से कम 100 बूथ की पहचान करनी चाहिए जहां भाजपा के पक्ष में अपेक्षाकृत कम मत पड़े हैं और वे इसके कारणों की भी पड़ताल करें। प्रधानमंत्री मोदी ने बैठक में सांसदों से कहा कि वे अपने-अपने इलाके में हारे हुए 100-100 बूथों का आकलन कर एक रिपोर्ट तैयार करें कि इन बूथों पर पार्टी के हारने की क्या वजह रही। बैठक में मौजूद भाजपा सांसद मनोज तिवारी ने बताया कि मोदी ने सांसदों से कहा कि वे अपने संसदीय क्षेत्र के 100 ऐसे मतदान केंद्रों की पहचान करें, जहां भाजपा के पक्ष में अपेक्षाकृत कम मत पड़े हैं और वे इसके कारणों की भी पड़ताल करें।

latest news

Related Articles

epaper

Latest Articles