30 C
New Delhi
Sunday, March 7, 2021

कोविड-19 : गरीबों के लिए मास्क बना रहीं हैं राष्ट्रपति की पत्नी

-Coronavirus से जंग में मिला देश की प्रथम महिला का साथ

-सविता कोविंद ने जरूरत मंद लोगों के लिए खुद फेस मास्क सिल रही

नई दिल्ली /टीम डिजिटल। देशभर में फैले कोरोना वायरस संकट के बीच भारत के लोगों ने विश्व के सामने एकजुटता की एक नई मिसाल पेश की है। महामारी से निपटने के लिए आज देश के अलग-अलग कोने से लोग सामने आ रहे हैं और मदद का हाथ बढ़ा रहा हैं। इसी बीच भारत की प्रथम महिला और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की पत्नी सविता कोविंद भी कोरोना वायरस से जंग में आगे आई हैं। सविता कोविंद ने जरूरत मंद लोगों के लिए खुद फेस मास्क सिल रही हैं। उनकी सादगी देख हर कोई उनसे प्रभावित हो गया है।

भारत में कोरोना वायरस के मरीजों का आंकड़ा 21 हजार के पार जा चुका है, देश में मास्क की कमी ना हो इसलिए अब राष्ट्रपति की पत्नी खुद सिलाई मशीन पर बैठ गई हैं। बीते बुधवार उन्होंने राष्ट्रपति भवन के शक्ति हाट में सिलाई मशीन पर बैठ खुद मास्क सिले। मास्क की कमी को दूर करने में अपना योगदान देते हुए वह खुद मास्क सिलने का काम कर रहीं हैं।

यह भी पढ़ें: डार्क वेब पर बिक रहा है कोरोना से ठीक हुए मरीजों का खून, 1 लीटर की कीमत 10 लाख रुपए

इस संकट काल में सभी लोग अपने- अपने स्तर पर योगदान दे रहे हैं। आम से लेकर खास सभी क्षमतानुसार लोगों तक मदद पहुंचा रहे हैं। इसी क्रम में राष्ट्रपति एस्टेट के शक्ति हाट में सविता कोविंद मास्क सिलती नजर आईं। इस दौरान सिलाई मशीन पर काम करते समय उन्होंने खुद भी मास्क पहना हुआ था। फर्स्ट लेडी ने इन माक्स को गरीबों के लिए बनाया है। इसे कई शेल्टर होम्स और राजधानी के शहरी आश्रय सुधार बोर्ड को दिया जाएगा, जिससे गरीबों तक मास्क की पहुंच सके।

Related Articles

epaper

Latest Articles