spot_img
22.1 C
New Delhi
Thursday, October 28, 2021
spot_img

20 लाख महिलाओं की हर साल तम्बाकू से हो ती है मौत

NEW DELHI: तम्बाकू से होने वाली 70 लाख सालाना मौतों में महिलाओं की संख्या कुल 20 लाख होती हैं। तम्बाकू के कारण महिलाओं और पुरुषों में चार खतरनाक जानलेवा बीमारियां – ह्रदय रोग, कैंसर, फेफड़े की बीमारी और मधुमेह होती हैं।
विश्व तम्बाकू निषेध दिवस के अवसर पर वाइटल स्ट्रेटेजीज की ओर से विश्व स्तर पर तम्बाकू प्रयोग और अन्य के द्वारा उपयोग के परिणामस्वरूप होने वाले जानलेवा प्रभावों और सरकारों द्वारा उपयुक्त नियम लागू करने को लेकर एक बड़ी पहल की गई और विश्व स्तर पर मीडिया अभियान शुरू किया गया. वाइटल स्ट्रेटेजीज के तत्वावधान में बांग्लादेश, भारत, यूक्रेन, वियतनाम, फिलीपीन्स, इंडोनेशिया, मेक्सिको, तुर्की और ब्राजील में तम्बाकू विरोधी अभियान की शुरुआत हुई।

इस अवसर पर वाइटल स्ट्रेटेजीज ने हैश तम्बाकू के विरोध में महिलाएं, नामक एक विश्वस्तरीय सामाजिक मीडिया /प्रसार अभियान भी शुरू किया जिसमें उन महिलाओं के योगदान को रेखांकित किया गया कि कैसे वह विश्व भर में तम्बाकू नियंत्रण को बढ़ावा देने और लाखों लोगों की जानें बचाने के प्रयास में संलग्न हैं।

वाइटल स्ट्रेटेजीज की वरिष्ठ उपाध्यक्ष-(नीति, प्रतिपालन और संचार), सांड्रा म्यूलिन ने कहा, “हम विश्व तंबाकू निषेध दिवस के अवसर पर हम उन बहादुर महिलाओं को विशेष तौर पर सामने ला रहे हैं जो इस महामारी के खिलाफ अभियान में सबसे आगे चल रही हैं।
उन्होंने कहा कि विश्व स्तर पर धूम्रपान करने वाली महिलाओं का प्रतिशत सिर्फ 16 है मगर विश्व स्तर पर तम्बाकू सम्बन्धी मौतों का प्रतिशत 28 है। हमें पता है कि इस भार को कम करने के लिए महिलाओं द्वारा उठाई गयी आवाज एक मजबूत सम्बल बन सकती है, एक भूमिका में वह तम्बाकू नियंत्रण अभियान का नेतृत्व कर सकती हैं तो दूसरी ओर अगली पीढ़ी की महिलाओं और युवतियों के लिए एक रोल माडल बन सकती हैं।

Related Articles

epaper

Latest Articles