30.1 C
New Delhi
Monday, June 24, 2024

CM योगी ने कहा,उद्यमिता और विकास की रफ्तार तेज करने को सीडी रेशियो बढ़ाएं बैंक

गोरखपुर/ महेंद्र सिंह। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उद्यमिता और विकास कार्यों को और अधिक तीव्र गति देने के लिए बैंकों से सीडी रेशियो बढ़ाने का आह्वान किया है। भारतीय स्टेट बैंक गोरखपुर शाखा के शताब्दी वर्ष समारोह में शासन की योजनाओं को प्रशिक्षण के साथ जोड़कर उद्यमियों, व्यवसायियों, युवाओं, महिलाओं, किसानों को लोन देने से विकास की प्रक्रिया तेजी से आगे बढ़ेगी, साथ ही बैंक की जमा पूंजी में भी निरंतर बढ़ोतरी होगी।

-SBI शाखा के शताब्दी वर्ष समारोह में बोले CM योगी 
-रोजगार को विस्तार देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं बैंक

बैंक रोड स्थित भारतीय स्टेट बैंक की गोरखपुर शाखा के 100 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में आयोजित समारोह में सीएम योगी ने कहा कि 15 अक्टूबर 1923 को जब यह शाखा खुली थी तब गोरखपुर महानगर की आबादी 50 हजार से भी कम थी। आज नगर निगम क्षेत्र में ही 15 से 20 लाख की आबादी निवास करती है जबकि जिले में यह संख्या 70 लाख के करीब होगी। इस दौरान गोरखपुर में तेजी से उद्योग धंधे बढ़े हैं, खास तौर पर बीते छह सालों में। आज गोरखपुर का इंफ्रास्ट्रक्चर विश्व स्तरीय दिखाई देता है। यहां नए नए उद्योग लग रहे हैं। सीएम योगी ने कहा कि जब बैंक सहायक की भूमिका में होते हैं तो उद्यमिता की प्रक्रिया तेजी से आगे बढ़ती है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि आज भारतीय स्टेट बैंक की गोरखपुर क्षेत्र में जमा पूंजी 11500 करोड़ से अधिक है जबकि वितरित लोन 4500 करोड़ रुपये है। यदि सीडी रेशियो 60 प्रतिशत हो जाए तो यह जमा पूंजी 25000 करोड़ होगी। इससे बैंक के सामाजिक कार्यों का दायरा भी बढ़ता जाएगा। उन्होंने कहा कि बैंक शासन की योजनाओं जैसे मुद्रा योजना, ओडीओपी, स्टार्टअप, स्टैंडअप, विश्वकर्मा श्रम सम्मान व पीएम विश्वकर्मा योजना (PM Vishwakarma Scheme) में प्रशिक्षण के साथ लोन देकर रोजगार को विस्तार देने में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन कर सकते हैं।
सीएम योगी ने कहा कि 2014 के बाद बैंकिंग सेक्टर में क्रांतिकारी बदलाव आए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनधन खातों को खुलवाकर और फिर आधार से लिंक कर भ्रष्टाचार मुक्त डीबीटी की व्यवस्था की है। यही नहीं यूपीआई जैसा बेहतरीन पेमेंट गेटवे भी भारत की देन है। यूपी में 2.62 करोड़ किसानों के खातों में पीएम किसान सम्मान निधि, 1.91 करोड़ प्राथमिक विद्यालयों के बच्चों के कॉपी किताब, गणवेश आदि के उनके अभिभावकों के खातों में 1100 रुपये भेजने, 1 करोड़ लोगों को प्रतिमाह 1000 रुपये पेंशन भेजने में बैंकों की महत्वपूर्ण भूमिका है। यही नहीं कोरोना संकट काल में छुट्टी के दिन भी भरण पोषण भत्ता ट्रांसफर करने में बैंकों ने राष्ट्रीय प्रतिबद्धता दर्शायी।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कहा भारतीय स्टेट बैंक गोरखपुर शाखा के 100 साल पूर्ण होने पर शारदीय नवरात्र की प्रतिपदा का होना सिर्फ संयोग ही नहीं बल्कि ईश्वरीय कृपा है। इस सौ साल की यात्रा में यह बैंक शाखा विकास के पायदान में सहयोगी के रूप में आगे बढ़ी है। मुख्यमंत्री ने भारतीय स्टेट बैंक गोरखपुर शाखा की प्रगति यात्रा की विस्तार से चर्चा करने के साथ यहां संजोये गए सभी रिकॉर्ड के लिए बैंक की सराहना की। साथ ही समारोह में मौजूद महापौर से अपील की कि वह बैंक की इस शाखा की तरह निगम के पुराने भवन को म्यूजियम के रूप में विकसित करें।
समारोह को सांसद रविकिशन शुक्ल ( Ravikishan Shukla) ने भी संबोधित किया। स्वागत संबोधन भारतीय स्टेट बैंक (state Bank of India) के महाप्रबंधक आनंद विक्रम ने किया। इस अवसर पर प्रमुख रूप से महापौर डॉ मंगलेश श्रीवास्तव, विधायक महेन्द्रपाल सिंह, प्रदीप शुक्ल, एमएलसी डॉ धर्मेंद्र सिंह, भारतीय स्टेट बैंक के उप महाप्रबंधक संजीव कुमार, भाजपा के महानगर अध्यक्ष राजेश गुप्ता आदि मौजूद रहे।

CM ने हेरिटेज गैलरी का अवलोकन किया

समारोह के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भारतीय स्टेट बैंक गोरखपुर शाखा की हेरिटेज गैलरी का अवलोकन किया। साथ ही परिसर में पौधरोपण कर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया। मंच से उन्होंने उद्यमी को ऋण का चेक, बैंक के सीएसआर फंड से दो पीएचसी को 8-8 लाख तथा दो प्राथमिक विद्यालयों में स्मार्ट क्लास के लिए 5-5 लाख की सहायता राशि, महिला स्वयं सहायता समूह को ऋण, स्टैंडअप योजना के तहत ऋण का चेक वितरित किया। इस अवसर पर बैंक की दो महिला कर्मियों को भी मुख्यमंत्री के हाथों सम्मान प्राप्त हुआ।

latest news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

epaper

Latest Articles