34.1 C
New Delhi
Tuesday, July 23, 2024

BJP ने कहा, वंशवाद की राजनीति, भ्रष्टाचार और तुष्टिकरण की देश से विदाई जरूरी

नई दिल्ली /नेशनल ब्यूरो : भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने बुधवार को महात्मा गांधी द्वारा 1942 में आज ही के दिन शुरू किए गए भारत छोड़ो आंदोलन को याद किया और कांग्रेस तथा विपक्षी गठबंधन ‘इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इन्क्लूसिव अलायंस’ (INDIA) के घटक दलों पर निशाना साधा। साथ ही कहा कि वंशवाद, भ्रष्टाचार और तुष्टिकरण की राजनीति देश हित में समाप्त होनी चाहिए। भाजपा नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad) ने पार्टी मुख्यालय में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि भ्रष्टाचार और तुष्टिकरण की राजनीति वंशवादी राजनीति के साथ आती है। उन्होंने केंद्र में कांग्रेस के नेतृत्व वाली पूर्ववर्ती संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार के दौरान हुए कई घोटालों के साथ-साथ इंडिया गठबंधन के घटक दलों, तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress), राष्ट्रीय जनता दल (RJD), द्रविड़ मुनेत्र कषगम (द्रमुक) के शासन वाले राज्यों में सामने आए घोटालों का उल्लेख करते हुए कहा कि वंशवाद की राजनीति, भ्रष्टाचार और तुष्टिकरण की राजनीति को देश के सर्वोत्तम हित में भारत छोड़ना चाहिए। उन्होंने कहा कि ये देश की तीन बीमारियां हैं जिन्हें भारत छोड़ देना चाहिए।

—भारत छोड़ो आंदोलन की बरसी पर भाजपा ने विपक्षी दलों पर बोला हमला
—विपक्षी गठबंधन इंडिया को बीजेपी ने घमंडिया करार दिया
—देश की तीन बीमारियां हैं जिन्हें भारत छोड़ देना चाहिए : रविशंकर प्रसाद

रविशंकर प्रसाद ने कहा, भारत, इसकी सुरक्षा, अखंडता के लिए यह बहुत महत्वपूर्ण है कि इन तीन बीमारियों घोर परिवारवाद, भ्रष्टाचार और शर्मनाक तुष्टीकरण को भारत छोड़ना चाहिए। उन्होंने कहा, अगर देश के लोकतांत्रिक ताने-बाने की रक्षा करनी है, राजनीति में शुचिता को वापस लाना है और देश को बचाना है, तो इन तीन अभिशापों को भारत छोड़ना होगा। इस बीच, भाजपा सांसदों ने वंशवादी राजनीति, भ्रष्टाचार और तुष्टिकरण की राजनीति को देश से खत्म करने की मांग करते हुए संसद भवन परिसर में प्रदर्शन किया।

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि भाजपा वंशवादी राजनीति के खिलाफ है न कि किसी नेता के बेटे या बेटी के राजनीति में आने और चुनाव लड़ने के खिलाफ। उन्होंने कहा कि वंशवादी राजनीति का मतलब किसी नेता का बेटा या बेटी है जो पार्टी को प्रमुख के रूप में चलाता है, प्रधानमंत्री या मुख्यमंत्री बनता है या पार्टी का प्रधानमंत्री या मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनता है। उन्होंने कहा, इसे परिवारवाद कहा जाता है जिसमें पार्टी के आम कार्यकर्ताओं और नेताओं के लिए कोई जगह नहीं है। रविशंकर प्रसाद ने कहा कि राहुल गांधी की पैकेजिंग और रीपैकेजिंग होती रहेगी लेकिन यह कांग्रेस के नेताओं को देखना है कि उनमें इस महान देश का नेता बनने की कितनी क्षमता है।
भाजपा नेता ने गांधी को जन नायक कहने के लिए कांग्रेस पर भी निशाना साधा और कहा कि लोगों ने बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री कर्पूरी ठाकुर (Karpoori Thakur) को उनके महान योगदान के लिए यह उपाधि दी थी। उन्होंने कहा, जब दरबारी संस्कृति में राग दरबार बजाया जाता है तो कई अप्रिय राग भी सामने आते हैं। प्रसाद ने विपक्ष गठबंधन इंडिया को घमंडिया करार दिया और राजद, तृणमूल कांग्रेस और द्रमुक पर निशाना साधते हुए उनके शीर्ष नेताओं पर वंशवादी राजनीति को आगे बढ़ाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा, परिवार का शासन स्वाभाविक रूप से अलोकतांत्रिक और गैर जिम्मेदाराना है। परिवार को अपनी राजनीति जारी रखने के लिए भ्रष्टाचारियों के समर्थन की जरूरत है। तुष्टीकरण उनके राजनीतिक विचारों का बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा है। भाजपा नेता ने देश में भ्रष्टाचार और तुष्टिकरण की राजनीति को समाप्त करने के प्रयासों के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सराहना की। उन्होंने कहा, हमें प्रधानमंत्री मोदी पर गर्व है। उन्होंने तुष्टीकरण और भ्रष्टाचार को खत्म किया है।

latest news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

epaper

Latest Articles