spot_img
26.1 C
New Delhi
Saturday, July 31, 2021
spot_img

सिखों ने गुरु ग्रंथ साहिब के 328 स्वरूपों के गायब मामले में निकला रोष मार्च

-प्रदर्शनकारियों ने गुरुद्वारा कमेटी प्रबंधन पर बोला हमला
–पूछा सवाल, कमेटी गुरु ग्रंथ साहिब के साथ है या चोरों के साथ ?

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल : दिल्ली के सिखों ने पंजाब में श्री गुरु ग्रंथ साहिब के 328 स्वरूपों के गायब होने के मामले में विरोध स्वरूप आज यहां रोष मार्च निकाला। राजधानी के गोविंदपुरी से कालका जी तक निकाले गए रोष मार्च में जागो पार्टी के अध्यक्ष मनजीत सिंह जीके भी शामिल हुए। इस मामले में दिल्ली कमेटी प्रबंधकों के द्वारा चुप्पी धारण करने को मुद्दा बनाते हुए प्रदर्शनकारियों ने हाथों में तख्तियां थाम रखी थी। इस पर गुरु ग्रंथ साहिब के अपमान पर कमेटी प्रबंधकों को प्रबंध से बाहर करने की बात लिखी थी। साथ ही प्रदर्शनकारी सवाल पूछ रहें थे कि कमेटी के पदाधिकारी गुरु ग्रंथ साहिब के साथ हैं या चोरों के साथ ?


प्रदर्शनकारी दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के महासचिव हरमीत सिंह कालका के कार्यालय के निकट भी विरोध मार्च लेकर पहुंचे। इस मौके पर जीके ने कहा कि स्वरूपों के गायब होने को लेकर जागो पार्टी की तरफ से पश्चाताप के तौर पर 328 सहज पाठ कर रहे हैँ। सहज पाठ के पहले पड़ाव के भोग 8 नवंबर को डाले जाएंगे। इसलिए दिल्ली कमेटी को पाठों की समाप्ति के लिए गुरुद्वारा बंगला साहिब या गुरुद्वारा रकाबगंज साहिब अथवा भाई लक्खी शाह वणजारा हॉल देने की मांग करते हुए पत्र भेजा है। हमें उम्मीद है कि कमेटी हमें पश्चाताप समागम के लिए जरूरी जगह उपलब्ध करवाएगी। मामला गुरु ग्रंथ साहिब से जुड़ा हुआ हैं, इसलिए पार्टीबाजी से ऊपर उठकर कमेटी को हमारे साथ सहयोग करना चाहिए।

Related Articles

epaper

Latest Articles