24 C
New Delhi
Friday, February 26, 2021

ममता बनर्जी के करीबी TMC विधायक अरिंदम भट्टाचार्य हुए भाजपाई

–कैलाश विजयवर्गीय ने गले लगाकर कराई ज्वाइनिंग, दिलाई सदस्यता
–नदिया जिले के शांतिपुर विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं अरिंदम भट्टाचार्य

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल : भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने पश्चिम बंगाल में सत्ताधारी दल तृणमूल कांग्रेस (TMC) एवं CM ममता बनर्जी के किले में सेंध लगा दी है। विधानसभा चुनाव की तारीखें जैसे जैसे निकट आ रही है, तृणमूल कांग्रेस के दिग्गज विधायकों के टूटने का सिलसिला भी बढ़ता जा रहा है। बुधवार को इसी क्रम में शांतिपुर से विधायक अरिंदम भट्टाचार्य को भाजपा ने तोड़ लिया। दिल्ली पहुचे अरिंदम दल बल के साथ भारतीय जनता पार्टी में विधिवत रूप से शामिल हो गए। वह नदिया जिले के शांतिपुर विधानसभा क्षेत्र से अरिंदम भट्टाचार्य विधायक हैं। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव एवं पश्चिम बंगाल के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने गले लगाकर अरिंदम का पार्टी में एंट्री कराई। अरिंदम को भाजपा महासचिवों कैलाश विजयवर्गीय, भूपेन्द्र यादव, अरूण सिंह और डी पुरंदेश्वरी तथा पार्टी प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन की मौजूदगी में पार्टी की सदस्यता दिलाई गई।

यह भी पढें…लड़कियों के विवाह की उम्र को लेकर PMO को सौंपी रिपोर्ट

विधायक भट्टाचार्य कांग्रेस के टिकट पर 2016 में चुनाव जीते थे और अगले साल ही टीएमसी में शामिल हो गए थे। अब वह भाजपा में शामिल हो गए हैं। भट्टाचार्य युवक कांग्रेस की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष रह चुके हैं। नदिया जिले से तृणमूल कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल होने वाले ये पहले नेता हैं, पिछले हफ्ते ही नदिया जिले में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने रैली की थी जिसमें अरिंदम भट्टाचार्य भी उनके साथ थे।
इस अवसर पर विजयवर्गीय ने कहा कि भट्टाचार्य बंगाल के ओजस्वी वक्ता और तेजस्वी नेता हैं जो तृणमूल कांग्रेस की अराजकता से तंग आकर भाजपा में शामिल हुए हैं। उन्होंने कहा कि मुझे बहुत प्रसन्नता है कि एक युवा नेता जो बंगाल की राजनीति में महत्वपूर्ण दखल रखते हैं, वह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व पर भरोसा जताते हुए आज भाजपा की सदस्यता ले रहे हैं। बता दें कि ममता सरकार के दिग्गज नेता सुवेंदु अधिकारी पिछले महीने भाजपा में शामिल हो गए थे एवं उनके साथ आधा दर्जन से अधिक टीएमसी नेताओं ने भाजपा में शामिल होने का फैसला लिया था।-

Related Articles

epaper

Latest Articles