36.1 C
New Delhi
Monday, June 27, 2022

गाजियाबाद सहित देश के 200 शहरों में रोपवे चलाने की तैयारी

नई दिल्ली /खुशबू पाण्डेय : दिल्ली-एनसीआर सहित देश के कई प्रमुख शहरों में आवागमन की सुविधा को और बेहतर बनाने के लिए केंद्र सरकार रोपवे चलाने जा रहा है। इसके लिए केंद्र सरकार ने कवायद तेज कर दी है। पहले चरण में दिल्ली से सटे गाजियाबाद को भी चुना गया है। गाजियाबाद के लिए बहुत जल्द कवायद शुरू हो जाएगी। इसके बाद यहां के लोग भी रोपवे का लुत्फ उठा सकेंगे। इसके अलावा देश के 18 शहरों पर रोपवे प्रोजेक्ट के लिए प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। मंत्रालय के मुताबिक आन्ध्र प्रदेश के विजयवाड़ा एवं कन्नूर, महाराष्ट्र के पुणे, त्र्यंबकेश्वर नाशिक, मध्यप्रदेश के उज्जैन, कर्नाटक के तीन शहरों उडुपी, कोप्पलाना, एवं चिकबल्लापुर, जम्मू कश्मीर के अनंतनाग, रेआसी, श्रीनगर, जम्मू कश्मीर, लेह-लद्दाख को चुना गया है।

– 200 शहरों में रोपवे चलाने की तैयारी, केंद्र के पास आया प्रस्ताव
-दिल्ली-एनसीआर के लिए बहुत जल्द शुरू जाएगा काम, कवायद शुरू
– चार प्रोजेक्ट के टेंडर जारी, 18 प्रोजेक्ट के टेंडर इसी माह में जारी होंगे
-हिमाचल के कुल्लू, जम्मू-कश्मीर के 3, लेह-लद्दाख में बनेगा रोपवे
-चार शहरों में रोपवे प्रोजेक्ट पर काम भी शुरू कर दिया गया

इसके अलावा हिमाचल प्रदेश के कुल्लू, उत्तराखंड के उत्तरकाशी और चंपावत, सिक्किम के गंगटोक, मणिपुर के विष्णुपुर एवं अरुणाचल प्रदेश के डपोरीजो में रोपवे प्रोजेक्ट स्थापित किया जाएगा।
सूत्रों के मुताबिक सड़क परिवहन मंत्रालय की रोपवे निर्माण करने वाली एनएचएआई की कंपनी एनएचएलएमएल के पास कई राज्यों से प्रस्ताव भी आ चुके है। चार प्रोजेक्ट के टेंडर भी जारी हो चुके हैं और 18 प्रोजेक्ट के टेंडर इस माह अंत तक जारी हो जाएंगे। सड़क परिवहन मंत्रालय सड़क निर्माण के साथ-साथ लोगों को आवागमन के अन्य साधन उपलब्ध कराने की तैयारी कर रहा है। इसी को ध्यान में रखते हुए एनएचएआई ने नेशनल हाईवे लाजिस्टक मैनेजमेंट लिमिटेड (एनएचएलएमएल) कंपनी बना दी है। यही कंपनी देशभर में रोपवे का निर्माण करेगी। कंपनी ने अभी तक चार स्थानों पर रोपवे प्रोजेक्ट पर काम भी शुरू कर दिया है।
इस बावत एनएचएलएमएल के सीईओ प्रकाश गौड़ के मुताबिक राजधानी दिल्ली से सटे गाजियाबाद और उत्तर प्रदेश के वाराणसी, उत्तराखंड में केदारनाथ और हेमकुंड साहिब पर रोपवे निर्माण संबंधी प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। इनके टेंडर भी निकाले जा चुके हैं। इनमें से वाराणसी प्रोजेक्ट पर काम इस वर्ष शुरू हो जाएगा। अन्य प्रोजेक्ट पर काम जल्द शुरू करने की कोशिश की जा रही है। अभी तक कई राज्यों से 200 के करीब प्रस्ताव आ चुके हैं। इनमें से कई प्रस्ताव पर एनएचएलएमएल जल्द ही प्रक्रिया शुरू करने जा रहा है। प्रस्ताव भेजने वाले राज्यों में कर्नाटक,जम्मू कश्मीर, उत्तराखंड, आन्ध्रा, मध्य प्रदेश, लेह-लद्दाख,पूर्वोतर के राज्य शामिल हैं।

Related Articles

epaper

Latest Articles