spot_img
36 C
New Delhi
Thursday, June 24, 2021
spot_img

BJP कार्यकर्ता हो जाएं तैयार, तेलंगाना में खिलाना है ‘कमल ‘

–TRS सरकार से जनता का मोह भंग, BJP ही एक विकल्प
–BJP अध्यक्ष जेपी नड्डा ने तेलंगाना के 9 जिला कार्यालयों का भूमि पूजन किया
–तेलंगाना सरकार पर बोला हमला, कहा-केंद्र की योजनाएं नहीं लागू कर रही है सरकार

(अदिति सिंह)
नई दिल्ली/टीम डिजिटल : भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने सोमवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से तेलंगाना के नौ जिला भाजपा कार्यालयों के भूमिपूजन किया। साथ ही कार्यकर्ताओं को संबोधित भी किया। इस मौके पर नड्डा ने कहा कि तेलंगाना की जनता चाहती है कि राज्य में कमल की सरकार बने। राज्य की जनता का टीआरएस सरकार से मोह-भंग हो चुका है, लिहाजा लोगों की आशाएं केवल और केवल भारतीय जनता पार्टी से है। उन्होंने कार्यकर्ताओं का आहवान किया कि हमें आगामी विधान सभा चुनाव में टीआरएस का सूपड़ा साफ करना है और यहां कमल खिलाना है। भाजपा चाहती है कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में देश भर में चल रही अविरल विकास यात्रा का लाभ तेलंगाना की जनता को भी मिले। इस मौके पर नड्डा ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के लिए कार्यालय पार्टी के विकास, जनता से जुड़ाव, कार्यकर्ताओं के निर्माण और समन्वय की नींव होते हैं।

तेलंगाना 9 जिला कार्यालयों का भूमिपूजन हो रहा है। महबूबनगर, नलगोंडा और हैदराबाद कार्यालयों का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है। पांच अन्य जिलों में काम चल रहा है। 12 जिलों में निर्माण का काम पूरा हो गया है। शेष सभी कार्यालयों का निर्माण कार्य जल्द ही पूरा हो जाएगा। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के लिए कार्यालय व्यवस्थित तरीके से कार्यकर्ता के निर्माण का केंद्र होता है। हमारे पास कार्यकर्ता हैं, कार्यकारिणी है, कार्यक्रम है तो इस सबके संचालन के लिए कार्यालय आवश्यक है।
इस मौके पर नड्डा ने कहा कि जहां एक ओर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार और भारतीय जनता पार्टी कोविड संक्रमण काल में मानवता की सेवा में जी-जान से लगी हुई है, वहीं दूसरी ओर तेलंगाना की टीआरएस सरकार कोरोना के खिलाफ लड़ाई को कमजोर करने में लगी है, मैं इसकी कड़ी निंदा करता हूँ। किस तरह ऑक्सीजन की कमी के चलते तेलंगाना में एक पत्रकार की जान चली जाती है और राज्य सरकार की कानों पर जूं तक नहीं रेंगती, इससे ज्यादा दुर्भाग्यपूर्ण और क्या हो सकता है!

स्वास्थ्य बीमा  आयुष्मान भारत को लागू नहीं होने दिया

कोविड के खिलाफ अकर्मण्यता के चलते राज्य की टीआरएस सरकार को हाईकोर्ट से फटकार भी लग चुकी है लेकिन ये तेलंगाना सरकार है कि सुनती ही नहीं। तेलंगाना सरकार एक सोई हुई सरकार है जो मानवता से जुड़े मुद्दों पर भी उदासीन है। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि तेलंगाना की टीआरएस सरकार केंद्र सरकार की जनोपयोगी योजनाओं को राज्य में लागू नहीं होने देती। टीआरएस सरकार ने तेलंगाना में विश्व की सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा आयुष्मान भारत को लागू नहीं होने दिया जिससे देश के एक करोड़ से अधिक लोग अब तक लाभ उठा चुके हैं। इस योजना के लागू न होने से कोविड संक्रमण काल में राज्य के गरीबों को काफी परेशानी हुई है। इस योजना से राज्य के लगभग 98 लाख लोग लाभान्वित होते।

तेलंगाना में हर जगह भ्रष्टाचार व्याप्त : नड्डा

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि तेलंगाना में हर जगह भ्रष्टाचार व्याप्त है। अपने पहले कार्यकाल के चुनाव में ही तेलंगाना के मुख्यमंत्री ने 7 लाख घरों के निर्माण का वादा किया था जबकि विगत छ: वर्षों से अधिक समय में अब तक केवल 50 हजार घर ही बनाए जा सके हैं। बहुप्रतीक्षित गोदावरी-कालेश्वरम योजना जो 45,000 करोड़ की थी, अब सरकार की लेट-लतीफी और लापरवाही के कारण 85 हजार करोड़ रुपये का हो गया है। तेलंगाना सरकार ने युवाओं को रोजगार देने का वादा किया था लेकिन इस पर अब तक कोई अमल नहीं हुआ। तेलंगाना सरकार को न तो युवाओं की चिंता है, न रोजगार की चिंता है। यहाँ तक की गरीबों के लिए केंद्र सरकार की ओर से मुफ्त राशन वितरण में भी राज्य में धांधली सामने आई है।

Related Articles

epaper

Latest Articles