35 C
New Delhi
Sunday, May 22, 2022

केंद्रीय मंत्री आठवले ने बदला फैसला, UP में नहीं लड़ेगें चुनाव, BJP को समर्थन

नई दिल्ली /अदिति सिंह : केंद्रीय मंत्री राम दास आठवले की पार्टी रिपब्लिक पार्टी ऑफ इंडिया अब उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में अपने प्रत्याशी नहीं उतारेगी। शनिवार को पार्टी की हुई हाईलेवल बैठक में इसका फैसला लिया गया। इससे पहले पार्टी की भाजपा के वरिष्ठ नेताओं के साथ मुलाकात हुई। बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री एवं आरपीआई के अध्यक्ष रामदास आठवले ने ऐलान किया कि आरपीआई उत्तर प्रदेश में एक भी सीट पर चुनाव नहीं लड़ेगी। यूपी की सभी सीटों पर आरपीआई भारतीय जनता पार्टी का समर्थन करेगी। उन्होंने कहा रिपब्लिक पार्टी ऑफ इंडिया योगी आदित्यनाथ को पूरा सर्मथन दिया है।
उन्होंने दावा किया कि आरपीआई के कायकर्ता उत्तर प्रदेश की 50 सीटों पर विधानसभा चुनाव लडऩे को तैयार थे। लेकिन, एनडीए के सहयोगी दल होने के नाते अपने प्रत्याशी उतारने के फैसले को बदल दिया। आठवले ने कहा कि 2014 से आरपीआई भाजपा के साथ साझेदारी में है।

-यूपी में सभी सीटों पर भाजपा को समर्थन देने का किया ऐलान
-बीजेपी अध्यक्ष नडडा को लिखा पत्र, किया समर्थन का दावा
-आरपीआई के सदस्य चुनाव नही लड़ेंगे, भाजपा प्रत्याशियों का करेगी समर्थन

एनडीए घटकदल का हिस्सा है और केंद्र की मोदी सरकार में भी भागीदार है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बाबा साहब भीमराव अंबेडकर के संविधान का आदर करते हैं। प्रधानमंत्री मोदी भारत के संविधान को मजबूत करने में पूरी तरह से लगे हुए हैं। इसलिए उनका साथ देना उनकी पार्टी का फर्ज बनता है। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी दुनिया में नंबर एक के नेता हैं और योगी जी उत्तर प्रदेश के रहनुमा हैं। लिहाजा, उनकी पार्टी मोदी और योगी के साथ पूरी मुस्तैदी के साथ खड़ी है। इस बावत उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा को पत्र लिखकर बता दिया है। साथ ही स्पष्ट कर दिया है कि हम सभी सीटों पर भाजपा को समर्थन देंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा ने भरोसा दिया है कि यूपी में सरकार बनने पर आरपीआई के कार्यकर्ताओं को पूरा सम्मान मिलेगा।
आरपीआई अध्यक्ष आठवले ने कहा कि मुम्बई में कुछ ताकतें उत्तर भारतीयों को भगाने में लगी हैं। लेकिन वह और उनकी पार्टी उत्तर भारतीयों को जगाने में लगे हैं।

Related Articles

epaper

Latest Articles