29 C
New Delhi
Monday, May 10, 2021

हरियाणा में तीन मई तक नहीं खुलेंगे शराब के ठेके

— शराब तस्करों करने वालों पर होगी सख्त कार्रवाई – उपमुख्यमंत्री
—’ स्टॉक में कमी पाये जाने पर लाइसेंस बैन करने से पीछे नहीं हटेगी सरकार

(आलोक सांगवान)

चंडीगढ़ / टीम डिजिटल। हरियाणा सरकार प्रदेश में तीन मई तक शराब के ठेके नहीं खोलने जा रही है। यह जानकारी आज आबकारी विभाग का जिम्मा संभाल रहे प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने चंडीगढ़ में आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पत्रकारों के सवाल के जवाब में दी। उन्होंने कहा कि 15 अप्रैल को केंद्र सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन के मुताबिक तीन मई तक कहीं भी शराब के ठेके नहीं खोले जा सकते है। उन्होंने स्पष्ट किया कि प्रदेश सरकार केंद्र के आदेशों की पालना करते हुए शराब के ठेके नहीं खोलेगी। उन्होंने आगे यह भी कहा कि अगर केंद्र सरकार इस फैसले में कोई बदलाव करके लागू करती है तो उसके बाद अन्य प्रदेशों को देखते हुए हरियाणा सरकार निर्णय लेगी।

इसे भी पढे…कोविड-19: हिंसा करने वालों पर कार्रवाई के आदेश

साथ ही उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने लॉकडाउन के दौरान शराब की अवैध तस्करी करने और उन तक शराब पहुंचाने वाले लोगों को चेतावनी दी है। उन्होंने कहा कि स्टॉक चैकिंग के दौरान अगर शराब के गोदामों व ठेकों पर शराब का स्टॉक कम मिलता है तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जायेगी। यहां तक कि जरूरत पड़ने पर उनके लाइसेंस तक बैन किये जा सकते हैं।

डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने बताया कि सरकार प्रदेश में 26 मार्च से शराब के ठेके बंद होने के बाद निरंतर शराब माफियाओं पर नजर रखते हुए नकेल कस रही है। उन्होंने बताया कि आबकारी विभाग की टीमें जहां लगातार प्रदेशभर में छापेमारियां कर रही है, वहीं पुलिस अवैध कारोबारियों को पकड़ने का काम कर रही है। दुष्यंत चौटाला ने बताया कि आबकारी विभाग द्वारा प्रदेशभर में 442 जगहों पर छापेमारी की गई। पुलिस द्वारा अलग-अलग जिलों में 1200 से अधिक एफआईआर दर्ज, 1 लाख 60 हजार से ज्यादा अवैध शराब की बोतलें व 10 हजार लीटर कच्ची शराब बरामद की गई है।

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि निरंतर विभाग द्वारा चेताया भी जा रहा है और कार्रवाई भी की जा रही है। उन्होंने कहा कि स्टॉक चैंकिग में शराब की स्टॉक की मात्रा कम पाने पर 12 लोगों को नोटिस जारी कर दिए गए है। उन्होंने कहा कि अगर विभाग को आगे जरूरत पड़ी तो वो नोटिस के साथ-साथ लाइसेंस बैन करने से भी पीछे नहीं हटेगी। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि इसके साथ सरकार विज्ञापन के जरिये भी शराब तस्करों को चेतावनी दे रही है। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि कुछ लोग आवश्यक सामान लाने के बहाने प्रशासन से पास लेकर शराब की कालाबाजारी कर रहे है।

Related Articles

epaper

Latest Articles