spot_img
27.1 C
New Delhi
Saturday, September 18, 2021
spot_img

सोशल मीडिया पर पहली बार दो परस्पर विरोधी नेता आए एक साथ, 14.1 मिलियन फॉलोअर

नई दिल्ली, साधना मिश्रा: साल 2022 में यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर प्रदेश में सियासी हलचल तेज होती जा रही है। एक तरफ जहां पार्टियां चुनाव को लेकर रोड मैप तैयार करने में जुटी हुई है तो वही दूसरी तरफ सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) और पूर्व सीएम अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) का ट्विटर अकाउंट चर्चा का विषय बना हुआ है। बता दें कि दोनो ही नेताओं के पॉलोअर्स की संख्या 14.1 मिलियन हो गई है।

आदित्यनाथ और अखिलेश यादव के ट्विटर पर आने में 6 साल का गैप
भाजपा से सीएम योगी आदित्यनाथ और समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव जो कि एक दूसरे के परस्पर विरोधी नेता है। मालूम हो कि ये पहला मौका है कि जब किन्हीं दो नेताओं के फॉलोअर्स की संख्या एक जैसी हुई है। प्राप्त जानकारी के अनुसार अखिलेश यादव जुलाई साल 2009 में ट्विटर (Twitter) पर आए थे, जबकि वही सीएम योगी आदित्यनाथ सितबंर 2015 में ट्विटर पर आए। इस लिहाज से देखें तो योगी आदित्यनाथ करीब 6 साल बाद ट्विटर पर आए।

tweet

यह भी पढें… राहुल गांधी के ट्वीट पर स्मृति इरानी का पलटवार, बोया पेड़ बबूल का, आम कहाँ से होय

tweet

अखिलेश ने ट्वीट में लिखी ये बात
हालांकि दोनो ही नेता सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते है, और समय-समय पर दोनों की ट्वीट करते रहते है। चाहे उन्हें अपनी सरकारों के काम की उपलब्धियां बतानी हो या विपक्ष पर हमला करना हो। बता दें कि आज ही यानी शुक्रवार को अखिलेश यादव ने बीजेपी पर ट्वीट कर हमला बोला है। उन्होंने लिखा है, “इधर बेकारी-बेरोज़गारी रिकार्ड तोड़ रही है, उधर महंगाई कमर तोड़ रही है। न मनरेगा में काम है, न स्किल मैपिंग का कहीं अता-पता है और न ही इंवेस्टमेंट मीट के निवेश का। व्यापार, कारोबार, दुकानदारी, कारीगरी सब ठप्प है। बंदरबाँट में उलझी भाजपा सरकार से जनता को कोई उम्मीद भी नहीं है।”

यह भी पढें… अनुप्रिया पटेल ने भी अमित शाह से मुलाकात की

क्या पीएम और योगी की इस बैठक से यूपी विधानसभा चुनाव पर होगा असर
मालुम हो कि साल 2022 के फरवरी महीने में यूपी में विधानसभा चुनाव होने वाले है जिसको लेकर इस बीच सीएम योगी आदित्यनाथ दो दिवसीय दिल्ली दौरे पर आए हुए है। बता दें कि बीते गुरुवार को उन्होंने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी। जिसके बाद उन्होंने आज यानी शुक्रवार 11 जून को पीएम नरेन्द्र मोदी से मुलाकात की। मिली जानकारी के मुताबिक पीएम के साथ मीटिंग के बाद योगी आदित्यनाथ बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से भी मुलाकात करेंगे। वही पीएम मोदी और सीएम आदित्यनाथ के बीच हुई बैठक को लेकर ये अटकलें लगाई जा रही है कि इस मीटिंग से आने वाले वक्त में यूपी की राजनीति की बड़ी तस्वीर सामने आ सकती है।

Related Articles

epaper

Latest Articles