spot_img
26.1 C
New Delhi
Saturday, July 31, 2021
spot_img

कोविड-19: अमित शाह ने अब एनसीआर की संभाली कमान

–एनसीआर में कोविड-19 से निपटने की साझा रणनीति के लिए बुलाई बैठक
–दिल्ली, उत्तरप्रदेश और हरियाणा के मुख्यमंत्री मौजूद, दिए निर्देश
— एनसीआर में रैपिड एंटीजन टेस्टिंग का उपयोग करने का निर्देश
–संक्रमण फैलने की दर कम करने और मरीजों को अस्पताल में भर्ती करने पर जोर
–एनसीआर में कोरोना संक्रमण की मैपिंग में आरोग्य सेतु और इतिहास एप की मदद लेने को कहा
–यूपी,हरियाणा वाले एम्स के डाक्टरों से जरूरी लें सलाह

(खुशबू पाण्डेय) 
नई दिल्ली / टीम डिजिटल : गृहमंत्री अमित शाह ने राजधानी दिल्ली के बाद अब एनसीआर में भी कोरोना को फैलने से रोकने के लिए कमान संभाल ली है। इसको लेकर शाह ने आज दिल्ली-एनसीआर की हाईलेवल बैठक बुलाई। दिल्ली, हरियाणा और यूपी के मुख्यमंत्रियों के साथ हुई बैठक में महामारी से निपटने की एक साझा रणनीति बनाने का निर्देश दिया। साथ ही एनसीआर में रैपिड एंटीजन टेस्टिंग का उपयोग कर संक्रमण फैलने की दर कम करने और मरीजों को जल्द से जल्द अस्पताल में भर्ती करने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि भारत सरकार, उत्तर प्रदेश और हरियाणा को आवश्यकतानुसार रैपिड एंटीजन टेस्ट किट उपलब्ध करा सकती है।
अमित शाह ने कहा कि अधिक से अधिक टेस्टिंग कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकेगी और विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार संक्रमण की दर को दस प्रतिशत से कम करने में मदद मिलेगी। संक्रमित व्यक्तियों के सम्पर्क में आने वाले लोगों की संख्या जितनी कम होगी, संक्रमण का फैलाव उतना ही कम होगा। इसके अलावा नये रैपिड एंटीजन टेस्ट से करीब नब्बे प्रतिशत स्क्रीनिंग हो जाती है और इसकी किट को विपुल मात्रा उपलब्ध कराया जा सकता है।
केंद्रीय गृह मंत्री ने मृत्यु दर को कम करने के लिये मरीजों को जल्द से जल्द अस्पताल में भर्ती कराने पर जोर देते हुए कहा कि मानवता कि दृष्टि से यह बहुत महत्वपूर्ण है कि हम गरीब से गरीब व्यक्ति की जान बचा सकें।
बैठक में नीति आयोग के सदस्य डॉ वी के पाल ने एनसीआर में कोविड से निपटने की रणनीति पर एक प्रजेंटेशन भी दिया। इसमें उन्होने दिल्ली-एनसीआर में अब तक अपनाई गई बेस्ट प्रैक्टिसेस और आगे की रणनीति पर जानकारी दी। इस मौके पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और केंद्र सरकार व उत्तर प्रदेश, हरियाणा तथा दिल्ली के वरिष्ठ अधिकारी भी शामिल हुए।

एनसीआर में कोरोना संक्रमण की मैपिंग ऐप से करें

गृह मंत्री अमित शाह ने एनसीआर में कोरोना संक्रमण की मैपिंग में आरोग्य सेतु और इतिहास एप की मदद लेने को कहा। साथ ही उत्तर प्रदेश और हरियाणा से अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के विशेषज्ञ डॉक्टर्स द्वारा कोविड मरीजों को टेलीमेडिसिन के जरिये सलाह देने की सुविधा का लाभ उठाने को भी कहा। साथ ही उन्होंने कहा कि दोनों राज्यों के छोटे अस्पतालों के डॉक्टर्स अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के विशेषज्ञों से टेली वीडियोग्राफी के माध्यम से गाइडेंस ले सकते हैं।

Related Articles

epaper

Latest Articles