spot_img
29.1 C
New Delhi
Monday, July 26, 2021
spot_img

दिल्ली में 31 मई तक के लिए बढ़ाया लाॅकडाउन

— केस घटने का सिलसिला जारी रहा तो 31 मई से अनलाॅक की प्रक्रिया चालू 
– दिल्ली वालों से अपील, लाॅकडाउन का पालन आगे भी जारी रखेंगे
– दिल्ली में सभी का वैक्सीनेशन करना सरकार की पहली प्राथमिकता 
— दिल्ली में कोरोना की रफ्तार कम, 24 घंटे में संक्रमण दर घट कर 2.5 फीसद पर आया

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल: दिल्ली सरकार ने दिल्ली में लगातार घटते कोरोना केस को और तेजी से कम करने के उद्देश्य से लाॅकडाउन को एक सप्ताह के लिए और बढ़ाने का निर्णय लिया है। सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्लीवासियों की सलाह पर हम एक सप्ताह के लिए लाॅकडाउन और बढ़ा रहे हैं। कल सुबह 5ः00 बजे लाॅकडाउन समाप्त हो रहा था, लेकिन अब यह 31 मई की सुबह 5ः00 बजे तक प्रभावी रहेगा। दिल्ली वालों से अपील है कि जैसे अभी तक सहयोग करते हुए लाॅकडाउन का पालन किया है, उसी तरह आगे भी करेंगे। अगर केस घटने का सिलसिला जारी रहा तो, 31 मई से अनलाॅक की प्रक्रिया चालू करेंगे और धीरे-धीरे कुछ गतिविधियों को खोलेंगे। सीएम ने कहा कि दिल्ली में सभी का वैक्सीनेशन करना हमारी पहली प्राथमिकता है, ताकि हम तीसरी लहर के खतरे से बच सकें। पूरे देश में वैक्सीन की कमी है। फिर भी हमारा प्रयास है कि कहीं से भी दिल्ली के लोगों के लिए वैक्सीन मिल जाए। इसके लिए हम कितना भी बजट खर्च करने के लिए तैयार हैं।

यह भी पढें…इंटरनेशनल पहलवान सुशील कुमार को दिल्ली पुलिस ने दी पटकनी

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हर हफ्ते रविवार के दिन हम सभी दिल्ली के लोग मिल बैठकर तय करते हैं कि लॉकडाउन को आगे बढ़ाना है कि नहीं बढ़ाना है। अगर बढ़ाना है, तो कितना बढ़ाना है? अभी जो मौजूदा लॉकडाउन है, वह कल सुबह 5ः00 बजे खत्म हो रहा है। आज फिर से हम सब दिल्ली के लोगों को तय करना है कि लॉकडाउन बढ़ना चाहिए या नहीं बढ़ना चाहिए, अनलॉक होना चाहिए या नहीं होना चाहिए। अप्रैल के महीने में जब पूरे देश के अंदर कोरोना की यह दूसरी लहर आई थी। यह लहर बहुत ही खतरनाक थी। दिल्ली सबसे पहला राज्य था, जहां हम सब लोगों ने यह देखा कि यह लहर बहुत खतरनाक है और देश के अंदर सबसे पहले दिल्ली में लॉकडाउन लगाया गया।
सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जब यह लहर आई थी और तेजी से केस बढ़ रहे थे, उस वक्त ऐसा लग रहा था कि पता नहीं यह लहर कितने दिन चलेगी।

यह भी पढें…PM मोदी ने ‘यास ‘ से निपटने के लिए बनाया एक्शन प्लान, NDRF की 46 टीमें तैनात, 13 एयरलिफ्ट

इस लहर से जीत पाएंगे या नहीं जीत पाएंगे, कैसे होगा और क्या होगा? हम लोगों ने दिल्ली में 20 अप्रैल को लाॅकडाउन लगाया था। लगभग एक महीने के अंदर दिल्ली के लोगों के अनुशासन, उनकी मेहनत और संघर्ष की वजह से आज कोरोना की अब तक की यह सबसे खतरनाक लहर कमजोर होती नजर आ रही है। मैं यह नहीं कहूंगा कि हमने युद्ध जीत लिया है, अभी युद्ध बाकी है, लेकिन अब ऐसा लग रहा है कि हम इस पर काबू पाते हुए नजर आ रहे हैं। अप्रैल के महीने में एक दिन ऐसा आया था, जब संक्रमण दर 36 फीसद पहुंच गई थी। यानी कि 100 लोगों की हम जांच करते थे, तो 36 लोग संक्रमित पाए जाते थे। पिछले 24 घंटे में यह संक्रमण दर 2.5 फीसद के भी नीचे चली गई है। यानि कि अब हम 100 लोगों की जांच करते हैं, तो उसमें 2.5 लोग संक्रमित पाए जाते हैं और 97.5 लोग ठीक पाए जाते हैं। इसका मतलब यह है कि दिल्ली के अंदर संक्रमण दर काफी कम हो गया है। सीएम ने आगे कहा कि अप्रैल के महीने में एक दिन ऐसा था, जब 28 हजार केस एक दिन में आए थे।

यह भी पढें…छत्तीसगढ़ के कलेक्टर ने किया प्रशासन को शर्मसार, Video वायरल होने पर कही ये बात…

दिल्ली के अंदर पिछले 24 घंटे में 1600 केस पाए गए हैं। दिल्ली के अंदर कोरोना की रफ्तार काफी कम हुई है। पिछले एक महीने में कई सारी समस्याएं आई और उन सारी समस्याओं का दिल्ली के दो करोड़ लोगों ने एक परिवार की तरह मिलकर मुकाबला किया। खासकर ऑक्सीजन की बहुत बड़ी समस्या आई थी, इसमें सबका सहयोग मिला। इसमें दिल्ली के लोगों, केंद्र सरकार, सुप्रीम कोर्ट और दिल्ली हाईकोर्ट, सबने सहयोग किया और ऑक्सीजन की समस्या का भी समाधान निकला। सीएम ने कहा कि दिल्ली में अभी भी हजार से ज्यादा केस आ रहे हैं। पिछले 24 घंटों में मैंने खूब लोगों से पूछा कि क्या करना चाहिए? जो भी निर्णय होगा हम मिलकर लेंगे। दिल्ली के लोग मिलकर निर्णय लेंगे। इस पर लोगों की एक आम राय बन रही है कि एक हफ्ते के लिए लाॅकडाउन और बढ़ा देना चाहिए, क्योंकि अभी अगर लॉकडाउन खोल दिया और जो कुछ हमने पिछले एक महीने की इतनी कड़ी मेहनत, संघर्ष और त्याग की वजह से पाया है, कहीं वह खत्म न हो जाए।

अनलाॅक भी धीरे-धीरे, गतिविधियों को 31 तारीख से हम खोलना चालू करेंगे

सब की आम राय यह है कि एक हफ्ते के लिए बढाया जाना चाहिए। इसलिए दिल्ली सरकार ने यह निर्णय लिया कि एक हफ्ते के लिए लाॅकडाउन और बढ़ाया जा रहा है। अगले सोमवार (31 मई) की सुबह 5‘00 बजे तक के लिए यह लाॅकडाउन बढ़ाया जा रहा है। आप सभी लोगों से अपील है कि जैसे आपने अभी तक सहयोग किया, आपने अभी तक कठोर अनुशासन का पालन किया और लॉकडाउन का अनुसरण किया। इसी तरह से आप आगे भी जारी रखेंगे। कोरोना के नियमों को आगे भी अनुसरण करेंगे। इस दौरान अगर अगले एक सप्ताह तक केस के घटने का सिलसिला इसी तरह जारी रहा, तो 31 मई से फिर हम अनलॉक की प्रक्रिया चालू करेंगे। एकदम से अनलॉक करना ठीक नहीं रहेगा। अनलाॅक भी धीरे-धीरे, कुछ-कुछ गतिविधियों को 31 तारीख से हम खोलना चालू करेंगे, लेकिन अभी दिल्ली के लोगों की राय के मुताबिक एक हफ्ते के लिए हम लोग लाॅकडाउन और बढ़ाने जा रहे हैं।

Related Articles

epaper

Latest Articles