spot_img
10.1 C
New Delhi
Tuesday, January 18, 2022
spot_img

80 करोड़ लोगों के राशन की चोरी में बीजेपी का हाथ: मनीष सिसोदिया

spot_imgspot_img
Indradev shukla

नई दिल्ली, साधना मिश्रा: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind kejriwal) के ड्रीम प्रोजेक्ट ‘घर-घर राशन’ योजना को केंद्र सरकार की तरफ से बड़ा झटका लगा है। केंद्र ने दिल्ली सरकार की इस योजना पर रोक लगा दी है। जिस पर अब सियासी पारा गरमा गया है। दोनो पार्टियों की तरफ से वार-पलटवार जारी है। इसी बीच आज यानी रविवार को सीएम केजरीवाल ने बीजेपी (BJP) पर करारा हमला बोला है। साथ ही कई गंभीर आरोप भी लगाए है। जिस पर बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने पलटवार किया।

संबित पात्रा ने केजरीवला पर किया पलटवार
सीएम केजरीवाल के आरोप पर संबित पात्रा (Sambit Patra) ने पलटवार करते हुए कहा कि, केजरीवाल ने आज बात रखी है कि पीएम मोदी दिल्ली की गरीब जनता को उनके अधिकार से वंचित रख रहे और घर-घर राशन रोकने की कोशिश कर रहे हैं, जबकि ऐसा नहीं है। मोदी सरकार नेशनल फूड सेक्यूरिटी एक्ट और पीएम गरीब कल्याण योजना द्वारा दिल्ली के जरूरतमंदों तक राशन पहुंचा रही है। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (Prime Minister Garib Kalyan Anna Yojana) के तहत मई और 5 जून तक दिल्ली को तय कोटे से अधिक 72,782 मीट्रिक टन अनाज भेजा गया है। फिर भी दिल्ली अभी सिर्फ 53,000 मीट्रिक टन अनाज ही उठा पाई है, जिसका 68 प्रतिशत ही जनता के पास पहुंचा है।

Indradev shukla

यह भी पढ़े… विश्व पर्यावरण दिवस : दिल्ली में औषधीय पौधों के मेगा वृक्षारोपण अभियान का श्रीगणेश

80 करोड़ लोगों के राशन की हो रही चोरी
जिसके बाद अब आप पार्टी के वरिष्ठ नेता और दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने कहा है कि, ‘मैंने बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा का प्रेस कॉन्फ्रेंस देखा। जिसमें उन्होंने देश में राशन चोरी का जिक्र नहीं किया और उसकी बजाय अरविंद केजरीवाल पर तीखा एवं अपमानजनक हमला किया। वे 80 करोड़ लोग जो झेल रहे हैं उस पर नहीं बोले। वे कहना चाह रहे हैं कि जो देश में 80 करोड़ लोगों के राशन की चोरी हो रही है उसकी तरफ आम आदमी पार्टी आंख उठाकर न देखे।’

यह भी पढ़े… इथेनॉल क्षेत्र के लिए रोडमैप जारी, 21वीं सदी के भारत की प्राथमिकता

पिज्जा, टीवी की होम डिलिवरी हो सकती है, तो राशन क्यों नही
उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आगे कहा कि, आज लोगों को टीवी, फोन, पिज्जा जैसी चीजों की होम डिलीवरी हो रही है, तो ऐसे में दिल्ली सरकार जनता की बेसिक जरुरत राशन भी घर-घर पहुंचाना चाहती है लेकिन केंद्र की मंशा इस पर रोक लगाने की है। भारतीय जनता पार्टी की दिलचस्पी देश में राशन की चोरी को रोकने के बजाय मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को गाली देने में है। उन्होंने आरोप लगाया कि देश में 80 करोड़ लोगों के राशन की चोरी के पीछे बीजेपी का हाथ है।

spot_imgspot_imgspot_img

Related Articles

epaper

spot_img

Latest Articles

spot_img