spot_img
29.1 C
New Delhi
Tuesday, July 27, 2021
spot_img

मामूली से विवाद पर एंबुलेंस चालक ने मरीज को मरने के लिए सड़क पर छोड़ा

नई दिल्ली, साधना मिश्रा: जहां एक तरफ देश कोरोना वायरस (Coronavirus) की दूसरी लहर से धीरे-धीरे उबर रहा है, वहीं इलाज ना मिल पाने की वजह से कई राज्यों में अन्य बीमारियों से लोग दम तोड़ रहे हैं। हाल ही में मध्य प्रदेश के ग्वालियर से सामने आए एक वीडियो ने सभी को दंग कर दिया। वीडियो में सड़क पर दर्द से कराह रहे एक शख्स को देखा जा सकता है, खबरों की मानें तो यह शख्स टीबी की बीमारी से पीड़ित था लेकिन एंबुलेंस चालक ने उसे सड़क पर तपड़ने के लिए छोड़ दिया।

जरा सी बात पर मरीज को सड़क पर छोड़ा
मामूली से विवाद के चलते युवक अब हमारे बीच नहीं है। मामला दरअसल, एमपी के शिवपुरी का है जहां एंबुलेंस ड्राइवर ने जरा सी बात को लेकर मरीज और उसकी पत्नी को सड़क पर छोड़कर फरार हो गया। एंबुलेंस चालक की इस लापरवाही की वजह से टीबी के मरीज ने सड़क पर ही तड़प-तड़प कर दम तोड़ दिया, फिलहाल पुलिस (MP Police) अब फरार चालक की तलाश में जुट गई है।

यह भी पढ़े… CBSE बोर्ड की 12वीं की परीक्षाएं कोरोना के चलते कैंसिल, 16 लाख विद्यार्थियों को बड़ी राहत

पुलिस ने बताई ये बात
कोरोना वायरस के बीच दम तोड़ती इंसानियत का यह वीडियो सोशल मीडिया (social media) पर तेजी से वायरल हो रहा है। मामला जब तक प्रशासन के संज्ञान में आया तब तक बहुत देर हो चुकी थी। पुलिस के मुताबिक मरीज को ग्वालियर से शिवपुरी लाया जा रहा था। इस दौरान मरीज के साथ उसकी महज 25 दिन की बेटी भी साथ थी। रास्ते में मामूली बात पर विवाद हुआ और एंबुलेंस ड्राइवर उन्हें बीच सड़क पर छोड़कर भाग गया।

यह भी पढ़े… पढ़ाई के बोझ से परेशान 6 साल की मासूम, वीडियो बनाकर पीएम मोदी से लगाई गुहार

2 हजार रुपये देकर बुक की थी एंबुलेंस
मृतक की पत्नी रचना ने बताया कि बीमार नीरेंद्र को ग्वालियर (Gwalior) से शिवपुरी लाने के लिए 2 हजार रुपए में एंबुलेंस बुक किया, रास्ते में नीरेंद्र दर्द से रोने लगा। इसी बात को लेकर एंबुलेंस चालक उनसे बहस करने लगा और सड़क पर ही छोड़कर चला गया। नीरेंद्र काफी देर तक सड़क पर ही पड़ा रहा, अचानक उसकी हालत बिगड़ी और वह बेहोश हो गया। इस बीच अस्पताल जाने के रास्ते में उसने दम तोड़ दिया।

Related Articles

epaper

Latest Articles